अश्वगंधा की खेती करके पैसे कैसे कमाए 2022 | Ashwagandha Farming Business Ideas In Hindi 2022

अश्वगंधा की खेती करके पैसे कैसे कमाए 2022 (लागत, मुनाफा, माल कहा बेचे, खेती कैसे करे) (Ashwagandha Farming Business Ideas In Hindi 2022)

Ashwagandha Farming Business: किसान के पास खेत होकर उसका सही इस्तेमाल नहीं करते है। पर मैं आपके लिए खेती के अच्छे अच्छे बिजनेस आइडिया लाता हु। जिससे हर किसान अगर सही ढंग से खेती करे और सही जगह माल बेचे तो आसानी से लाखो और करोड़ों रुपए भी कमा सकते है। ऐसेही यह अश्वगंधा की खेती करके पैसे कैसे कमाए का बिजनेस आइडिया है। जिसको आप कम जमीन में खेती करके भी लाखो रुपए कमा सकतें है। अश्वगंधा का इस्तेमाल ज्यादातर दवाइयां बनाने में किया जाता है। इसीलिए इसकी डिमांड ज्यादा होती है और कीमत भी ज्यादा होती है। तो चलिए जानते है इसके बारेमे।

यह एक बहुत प्रॉफिटेबल बिजनेस आइडिया है। इसे हर कोई किसान अपने खेत में शुर कर सकता है और लाखो रुपए छाप सकता है। पर इसकी सही जानकारी न होने के वजह से कोई अच्छेसे मुनाफा नही कमाता। तो चलिए जानते है Ashwagandha Farming Business Idea कैसे शुरू करे, लागत कितनी लगेगी, मुनाफा कितना होगा, मार्केटिंग कैसे करे यह सब इस बिजनेस के बारेमे जानते है।

अश्वगंधा की खेती की मार्केट में है बहुत डिमांड (Ashwagandha Farming Business High Demand)

अश्वगंधा की खेती मार्केट में बहुत ज्यादा डिमांड है। इसकी खेती आप कम जगह पर करके भी ज्यादा मुनाफा कमा सकते है। अश्वगंधा की सबसे ज्यादा मांग दवाइयां बनाने वाली कंपनी में ज्यादा होती हैं। इसका इस्तेमाल ज्यादा दवाइया बनाने में किया जाता है। यह एक आयुर्वेदिक दवाई का भी काम करती है जो महिलाओं के लिए ज्यादा लाभदायक होती है। इससे हमारी इम्यून सिस्टम बूस्ट होती है और हमारे शरीर में ताकत देने में मदत करती है। इसीलिए आप अश्वगंधा की खेती कम जगह पर भी करके अच्छा मुनाफा कमा सकते है।

अश्वगंधा की खेती करने का सही समय (Ashwagandha Farming Best Time)

अश्वगंधा की खेती करने करने के लिए वातावरण में 25 से 30 डिग्री तापमान होने की आवश्यकता होती है। इसीलिए आप अश्वगंधा की खेती अक्टूबर महीने से शुरू कर सकते है। इस महीने में वातावरण में ठंड होती है और लगभग 25 से 30 डिग्री तापमान होता है।

अश्वगंधा की खेती के लिए जरूरी चीजे (Ashwagandha Farming Business Raw Materials)

  • एक एकड़ जमीन के लिए 6 किलो अश्वगंधा के बीज की आवश्यकता होगी।
  • पानी की व्यवस्था होनी चाहिए।
  • गोबर का खाद या DAP/SSP खाद

अश्वगंधा की खेती करने के लिए बीज कहा से खरीदे

अश्वगंधा के खेती करने के लिए बीज आप अपने एरिया के किसी भी बीज भंडार में जाकर खरीद सकते है। अगर आपको वहा बीज ना मिले तो आप ऑनलाइन भी अश्वगंधा का बीज खरीद सकते है। ऑनलाइन खरीदने के लिए आप indiamart.com या Amazon पर जाकर बीज को सर्च कर सकते है।

अश्वगंधा की खेती के लिए मिट्टी

वैसे तो अश्वगंधा की खेती हर तरह की मिट्टी पर की जा सकती है। पर उसमे की खेती करने के लिए लाल मिट्टी अच्छी मानी जाती है। लाल मिट्टी होने पर अश्वगंधा की खेती से अच्छा उत्पादन देखने को मिलता है।

अश्वगंधा की खेती करने का तरीका (Ashwagandha Farming Process)

  • अश्वगंधा खेती करने के लिए सबसे पहले आपको अपने खेत को अच्छी तरह से तयार करना होगा। तयार करने के लिए दो से तीन बार खेत की जुताई करनी होगी और मिट्टी को बारिक करना होगा।
  • जुताई होने के बाद उसमे गोबर का खाद मिलना होगा। अश्वगंधा की खेती के लिए ज्यादा खाद की आवश्यकता नही होती। आप खाद को कम मात्रा में इस्तेमाल कर सकते है।
  • अश्वगंधा की खेती के पौधे लाइन से लगाने होते है। लाइन से लाइन की दूरी 25 सेमी रखनी होगी और पौधे से पौधे की दूरी 5 सेमी रखनी होगी।
  • उसके बाद खेत में अश्वगंधा के बीज को हाथ से मिट्टी में डालना होगा। अश्वगंधा के बीज को हाथ से बुवाई कर्म आसान होता है। इसीलिए आप अपने हाथो से ही बीज को मिट्टी में मिलाए।
  • पूरे खेत में अच्छेसे बीज मिलाकर होने के बाद उसी दिन उसमे पहली सिंचाई कर दे।
  • इसके बाद 6 से 8 दिनो के अंदर दूसरी सिंचाई कर ले जिससे बीज जल्दी अंकुरित हो जाए।
  • ऐसेही आप मिट्टी के निशार सिंचाई कर सकते हैं। अश्वगंधा की खेती के लिए 4 से 5 बार सिंचाई करना आवश्यक होता है।
  • इसके बाद 7 से 8 दिनो में बीज अंकुरित होना शुरू होते है और 4 महीने में फसल तयार होकर हार्वेस्टिंग के लिए तयार हो जाती है।

अश्वगंधा की खेती करने में लागत (Ashwagandha Farming Cost)

एक एकड़ जमीन में अश्वगंधा की खेती करने के लिए कुल लागत 40,000 से 50,000 रुपए आ सकता है। इसमें मजदूरी को 40,000 रुपए लगेंगे। 6,500 रुपए के अंदर खाद और बीज का खर्च आएगा। बाकी खर्चा मंडी तक लेके जाने को आएगा। ऐसे आप 50,000 की लागत में अहस्वगंधा की खेती कर सकते है।

अश्वगंधा की फसल को कहा बेचे (Marketing)

अश्वगंधा की फसल को आप सीधे मंडी में ले जाकर बेच सकते है। मंडी में आपको इसका सही दाम मिल सकता है। इसके अलावा आप सीधे दवाई बनाने वाली कंपनी से संपर्क कर सकते है और उनको अच्छे दाम में बेच सकते है। दवाई बनाने वाली कंपनियों को अश्वगंधा की फसल की बहुत ज्यादा जरूरत होती है।

अश्वगंधा की खेती करके पैसे कैसे कमाए (Profit)

इसमें मुनाफा और पैसे कैसे कमाए की बात की जाए तो आप एक एकड़ की फसल में लाखो रुपए कमा सकते है। अश्वगंधा की जड़ की कीमत 35,000 रुपए प्रति क्विंटल के करीब होती है। वैसे ही इसके पत्तो की कीमत 900 रुपए प्रति क्विंटल और बीज 625 रुपए प्रति क्विंटल के करीब होती है। एक एकड़ से 6 क्विंटल जड़ों का उत्पादन हो सकता है। इसके साथ ही इसके बीज 2 क्विंटल और पत्ते 2 क्विंटल का भी उपादान हो जाए तो एक एकड़ से सबका मिलाके करीब करीब 2,13050 रुपए की कमाई कर सकते है। वैसे हर मंडी में इसका अलग अलग कीमत होती है। आप मार्केट में फसल बेचने के पहले इसकी जानकारी जरूर ले। अगर आप अश्वगंधा की खेती के बारेमे ज्यादा जानना चाहते है तो इस विकिपीडिया की लिंक पर जा सकते है।

निष्कर्ष

आज हम इस ब्लॉग के माध्यम से अश्वगंधा की खेती करके पैसे कैसे कमाए यह जाना है। अश्वगंधा की खेती कैसे करे, इससे पैसे कैसे कमाए, बेचे कहा, क्या क्या जरूरी है सब जाना है। आपको यह नया बिजनेस आइडिया कैसा लगा हमे कॉमेंट करके बता सकते है और नीचे अपनी स्टार में रेटिंग दे सकते है।

FAQ

Que: अश्वगंधा की खेती करने के लिए मौसम कैसा होना चाहिए?

Ans: अश्वगंधा की खेती के लिए सही मौसम ठंड का होता है। इसकी खेती के लिए 25 से 30 डिग्री का तापमान होना चाहिए। आप अश्वगंधा की खेती 1 अक्टूबर से 1 नवंबर तक कर सकते है।

Que: अश्वगंधा की फसल कितने महीने में तयार होती है?

Ans: 3 se 4 महीनो में फसल तयार होती है।

इन्हे भी पढ़े:-

5/5 - (1 vote)

Leave a Comment