Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

क्रेडिट कार्ड क्या होता है, क्रेडिट कार्ड का उपयोग कैसे करे | Credit Card In Hindi

आजके इस ऑनलाइन के जमाने मे क्रेडिट कार्ड का बहुत उपयोग हो रहा है, पर बहुत से लोगों को क्रेडिट कार्ड क्या होता है इसके बारेमे पता नहीं होता है। इसका उपयोग शॉपिंग करने के लिए Trend में है। बहुत से लोग इसको ऑनलाइन और ऑफलाइन खरीदारी करने में उपयोग कर रहे है। पहले लोग शॉपिंग करने जाते थे और पैसो का भुगतान करना होता था तो वो अपने जेभ मे पैसे लेके जाते थे पर अब ऐसा नही रहा अब लोग जेभ में ज्यादा पैसे लेके नही जाते और कार्ड निकालके स्वाइप मशीन (Swipe Machine) में स्वाइप करके बिल का भुगतान करते है।

Credit Card Meaning In Hindi In 2023

Table of Contents

क्रेडिट कार्ड क्या होता है (Credit Card In Hindi)

  • यह एक प्लास्टिक का कार्ड होता है जो Debit Card/ATM Card जैसा ही होता है पर इन दोनों में बहुत फरक होता है।
  • यह एक बैंक के तरफ से दी हुई एक विशेष सेवा होती है। जिससे आप शॉपिंग के समय इसका उपयोग करके भुगतान कर सकते है।
  • जब आप कही खरीदारी करने जाए और आपके पास भुगतान करने के लिये पैसे ना रहे और कोई उधारी ना दे उस समय आपको क्रेडिट कार्ड बहुत उपयोगी होता है और आप इसकी मदत से आप दुकान का बिल का भुगतान आसानी से कर सकते है।
  • इसमे आपको किसीको पैसे मांगने की जरूरत नही पड़ती और कही जाना भी नही पड़ता। जब आप शॉपिंग करने जाते है उनके पास ही स्वाइप मशीन (Swipe Machine) होती जिसमे कार्ड को स्वाइप करके बिल का भुगतान किया जाता है।
  • इसका उपयोग करने की सबको एक लिमिट होती है। आप उस लिमिट के ऊपर उसका use नही कर सकते और जैसे ही महीना खत्म हुआ कि आपने जितने रुपये इससे से खर्च किये है आपको उतने बिल का भुगतान करना पड़ता है।
  • क्रेडिट कार्ड मतलब एक प्रकार का लोन ही होता है जिसको आपको महीना खतम होने के बाद Loan की रकम ब्याज के साथ वापस देनी होती है।
  • अगर आप इसका बिल का भुगतान नही करते है तो बैंक के पूर्वनिर्धारित नियमो के नुशार आप पर कार्यवाही भी कर सकती है और ब्याज/पेनल्टी लगा सकती है।
  • इसका ज्यादातर उपयोग ऑनलाइन और ऑफलाइन और अन्य कामो के लिए भी कर सकते है। ये बहुत ही उपयोगी होता है। जैसे इसके फायदे भी है वैसेही ही इसके नुकसान भी है। इसका सही तरीके से आपको इस्तेमाल करना आना चाहिए।

क्रेडिट कार्ड किन-किन लोगों को मिल सकता है

आप जिस भी बैंक से क्रेडिट कार्ड लेना चाहते है उसके पहले आपको पता होना चाहिए कि आप इसके लिए पात्र है या नही। यह जानकारी महत्वपूर्ण होती है जो बैंक पहले आपके बारेमे जान लेती है। अगर आप इन सबमे पात्र हो जाते है तो उसके बाद आपको बैंक इसके लिए अप्रूवल देती है।

एचडीएफसी बैंक कस्टमर आईडी कैसे पता करें

क्रेडिट स्कोर/सिबिल स्कोर कितना होना चाहिए

अगर आपने पहले से ही किसी बैंक से कोई लोन ले रखा है या किसी दूसरे बैंक का क्रेडिट लिया होगा इससे बैंक आपका लोन भुगतान का इतिहास देखती है और इसीके ही आधार पर बैंक आपको क्रेडिट स्कोर/सीबील स्कोर (CIBIL Score)देती है।

यह रेटिंग जितनी अच्छी होगी उतना अच्छा है क्योंकि इसीको ही देखके बैंक आपको जल्द अप्रूवल देगी। याद रखिये कभी अपना क्रेडिट स्कोर को खराब न होने दे।

हमेशा 600 से 700 क्रेडिट स्कोर होना चाहिए, जिसको सबसे अच्छा सीबील स्कोर माना जाता है।

यह भी पढे: इन आसान स्टेप्स को फॉलो करके रुपे क्रेडिट कार्ड को करे युपीआई से लिंक

क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए

बैंक आपको बिना सैलरी देखे इस कार्ड को नही देती है। आपकी क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए वो पहले देखेंगे उसके आधार पर आपको महीने में कितने रुपये तक इसका उपयोग कर सकेंगे उसकी लिमिट भी बताएगी। सैलरी पर भी निर्भर होता है कि आपको कितने रुपये तक क्रेडिट दे।

इसके लिए अप्लाई करने के लिए कम से कम सैलरी 10,000 रुपये महीने की सैलरी होनी चाहिए। किसी किसी बैंक के लिए 25,000 रुपए के ऊपर सैलरी होना जरूरी है उसके बाद ही वो अप्लाई करने की मंजूरी देते है।

क्रेडिट कार्ड लेने के लिए आयु कितनी होनी चाहिए (Age Limit)

इस कार्ड को लेने के लिए आपकी उम्र 21 से 70 साल की होनी जरूरी है। 21 के नीचे की आयु के लोग इसके लिए लिए पात्र नही है।

क्या बैंक से आपका व्यवहार होना जरूरी है

आप जिस बैंक से क्रेडिट कार्ड लेना चाहते हो और आपका पहले से ही उस बैंक में खाता होना चाहिए या आप नया खाता खुलवा सकते है।

लगभग सभी सैलरी (Salary) बैंक में ही जमा होती है और आपका सैलरी अकाउंट (Salary Account) होने से बैंक को आपके बारेमे पहले से ही पता होता है।

Employer

बैंक ये भी जानना चाहती है कि आप अपनी जॉब कहा करते है और वो जॉब पर्मानेंट है या नही और पर्मानेंट है तो आपको महीने की सैलरी सही समय पर मिलती है या नही इन सबकी जानकारी बैंक लेती है।

क्रेडिट कार्ड बिल का भुगतान कैसे करे

इसका सबसे सरल तरीके है Billdesk, Net Banking, Mobile Banking और Third Party Platform इनका उपयोग करके ऑनलाइन तरीको से अपने बिलो का भुगतान कर सकते है।

जिन लोगो को ऑनलाइन तरीको से भुगतान करने में असहजता होती होगी वो काउन्टर पर जाकर चेक या कैश के माध्यम से भुगतान कर सकते है। ऑफ़लाइन तरीको से बिल का भुगतान करने के लिए कुछ शुल्क आपको देना होता। आमतौर पर आपको हर एक बिल पर 100 रुपए देने होंगे।

क्रेडिट कार्ड कितने दिन में बनता है

सभी बैंक का अप्रूवल देने का एक जैसी ही तरीका होता है। आवेदन करने के बाद अगर आपके दस्तावेज में कोई गलती नही होगी तो 4 से 5 दिन बाद बैंक से वेरिफिकेशन कॉल आता है। आपने जो इसके लिए डॉक्यूमेंट दिए हो उसीके ऊपर आपसे जाँच पड़ताल करते है।

कुछ बैंक ऐसे भी होते है कि आप Verification Call Recieve नही करते है और आपके आवेदन में कुछ भी गलती ना हो तो बैंक अप्रूवल के लिए आवेदन फॉर्म की प्रोसेस आगे बढ़ा देती है और कुछ ऐसे भी बैंक होती है कि आपने कॉल को रिसीव नही किया तो बैंक आपके आवेदन को होल्ड करके रखती है और कुछ टाइम बाद फिरसे कॉल करने की कोशिश करती है।

सबकुछ वेरीफाई करने के बाद अगर आपके डॉक्यूमेंट सही होते है तो बैंक अप्रूवल देती है और वेरिफिकेशन कॉल आने के 4-5 दिनों बाद पोस्ट से आपके पते पर Credit Card को भेज दिया जाता है।

क्रेडिट कार्ड बना है या नही बना कैसे चेक करें

  • इसको बनने के लिए 7 से 8 दिन का समय लगता है और यह बना है या नही बना चेक करने लिए बैंक में जाकर स्टेटस चेक करना या जिस भी बैंक में आपने आवेदन किया होगा उस बैंक में जाकर स्टेटस चेक कर सकते है क्रेडिट कार्ड को ट्रैक कर सकते है।
  • आपको बैंक के तरफ से मैसेज आएगा उसपर आपका क्रेडिट कार्ड का डिस्पैच स्टेसस रहेगा और ट्रैकिंग कोड रहेगा जिससे आप आसानी से ट्रैक कर पाएंगे।
  • आपको वेरिफिकेशन कॉल आने के बाद आपको अप्रूवल मिल जाता है तो 4 से 5 दिनो में आपके पते पर इसको भेज दिया जाता है।

क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढाने के लिए आवेदन कैसे करे

आप आसानी से इसकी लिमिट को बढ़ा सकते है। इसके लिए आपको आवेदन करना होता है, जिसके पहले आपको अपनी सीबील स्कोर अच्छा होना चाहिए। बैंक लिमिट बढ़ाने के लिए आपके खाते का इतिहास को चेक करेंगे और आपकी महीने की सैलरी को चेक करेंगे अगर आप इसके लिए पात्र हो जाते है तो बैंक लिमिट को बढ़ा देंगे।

लिमिट बढ़ाने के लिए आपको बैंक जाकर लिमिट बढ़ाने के लिए आवेदन करना होगा उसके बाद बैंक आपके खाते का इतिहास, सीबील स्कोर, सैलरी देखेंगे। ये सब वेरफाइ होने के बाद आप पात्र होंगे तो लिमिट बढ़ा देंगे।

क्रेडिट कार्ड के नियम एवं शर्तें

  • क्रेडिट धारक को वार्षिक शुल्क देना पड़ता है और कार्ड की वैलिडीटी खत्म हो जाए तो उसका भी नवीनीकरण (Renewal) करवाना पड़ता है। यह चार्ज हर बैंक में अलग अलग हो सकता है।
  • अगर आप क्रेडिट कार्ड से किसी एटीएम से नगद रक्कम निकाल लेते है तो इसपर आपको 2% से 3% तक का चार्ज लिया जाता है।
  • आपको समय-समय पर अन्य चार्जेस का भी भुगतान करना पड़ता है।
  • कार्ड धारक अगर किसी प्रकार की खरीदारी करता है तो उसपर 20 से 50 दिनों तक किसी भी तरह का ब्याज नहीं देना पड़ता है। यह अवधि निकलने के बाद क्रेडिट धारक खर्च की गई राशि का पुनर्भुगतान नहीं करता है तो उसपर ब्याज लगाया जा सकता है।
  • कार्ड धारकों को सभी लेनदेन पर मासिक ब्याज लगाया जाता है, उसपर सेवा शुल्क के रूप में चार्ज लिया जाता है।
  • अगर कोई कार्ड धारक दी हुई तिथि के पहले क्रेडिट बिल का भुगतान नहीं करता है तो उसपर लेट फी का भी चार्ज लगता है।
  • अगर कोई कार्ड धारक दी हुई लिमिट से ज्यादा की राशि खर्च कर लेता है तो उसपर ओवेरलीमीट फी का चार्ज लगता है।

क्रेडिट कार्ड के बारेमे ज्यादा जानने के लिए विडिओ देखे

निष्कर्ष

आज हमने इस लेख में क्रेडिट कार्ड क्या होता है इसके बारेमे जाना है। यह जानने के बाद आपको इसके बारेमे पूरी जानकारी मिल गई होगी। तो आपको यह डिटेल्स कैसी लगी हमे कमेंट करके बताए और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे।

FAQ

Que: क्रेडिट कार्ड डिस्पैच लोकेशन कैसे पता करे?

Ans: क्रेडिट कार्ड डिस्पैच लोकेशन हर बैंक का अलग अलग होता है। आपने जिस भी बैंक में अप्लाई किया है उस बैंक के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर अपने क्रेडिट का स्टेटस चेक करना वहापार कहा से डिस्पैच हो रहा दिखाई देगा।

Que: Credit Card बनने के लिए कितने दिन का समय लगता है?

Ans: इसके लिए कम से कम 7 दिनों का समय लगता है और ये आपके पते पर भेज दिया जाता

Que: क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड में क्या अंतर है?

Ans: इनके बीच मुख्य अंतर यह है कि डेबिट कार्ड का उपयोग करते समय, राशि आपके चेकिंग खाते से डेबिट हो जाती है। जब आप इसका उपयोग करते हैं, तो राशि आपकी पूर्व-अनुमोदित क्रेडिट सीमा से डेबिट की जाती है, आपके बैंक खाते से नहीं।

Que: क्रेडिट कार्ड कितने प्रकार के होते है?

Ans: भारत मे इसके 5 प्रकार होते है। Travel Credit card, Fuel credit card, Reward credit card, Shopping credit card, Secured credit card.

यह भी पढे:-

4.7/5 - (3 votes)
Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

4 thoughts on “क्रेडिट कार्ड क्या होता है, क्रेडिट कार्ड का उपयोग कैसे करे | Credit Card In Hindi”

  1. आपके द्वारा Credit कार्ड के बारे में दी गयी जानकारी मुझे बहुत अच्छी लगी।

    Reply

Leave a Comment