Short Moral Stories In Hindi For Class 7 | 7वी क्लास के बच्चों के लिए शॉर्ट मोरल स्टोरी इन हिंदी

Short Moral Stories In Hindi For Class 7, शॉर्ट मोरल स्टोरी इन हिंदी, मोरल हिन्दी स्टोरी, हिन्दी कहानी

बच्चों को छोटी छोटी कहानिया पढ़ना बहुत पसंद है इसीलिए मै 7 वी क्लास के बच्चों के लिए 10 शॉर्ट मोरल स्टोरी इन हिन्दी लेकर आया हु। जिसको पढ़के बच्चों को कुछ सीख मिलेगी और नई नई स्टोरी के बारेमे पता चलेगा। तो चलिए जानते है Short Moral Stories In Hindi For Class 7 के बारेमे।

Short Moral Stories In Hindi For Class 7

शॉर्ट मोरल स्टोरी इन हिन्दी (Short Moral Stories In Hindi For Class 7)

मै इस लेख मे आपको 10 शॉर्ट मोरल स्टोरी के बारेमे बताऊँगा जिसकी वजह से आपको नैतिक ज्ञान मिलेगा और कुछ नया जानने को मिलेगा। तो चलिए जानते है Short Moral Stories In Hindi For Class 7 के बारेमे।

#1 शेर और गरीब गुलाम की कहानी (Short Moral Stories In Hindi For Class 7)

एक गरीब गुलाम राहत है और उसका मालिक एक शिकारी राहत है, जो जंगल के जानवरों का शिकार करता है। गुलाम का मालिक एक दिन एक जंगल मे जाते है। कुछ दूर जाने के बाद मालक अपने गुलाम को कहता तुम यही बैठो मै शिकार के लिए जाल बिछाके आता हु। ऐसा बोलके मालक जाल बिछाने चला जाता है।

गुलाम आदमी बहुत ही दयालु स्वभाव का है। वो जंगल मे एक पेढ के नीचे बैठा रहता है तभी उसको शेर की आवाज सुनाई देती है। शेर का पंजा एक कांटे मे फसा है और शेर दर्द से कहर रहा है।

वो गुलाम दयालु स्वभाव की वजह से शेर के पास उसको कांटे से छुड़ाने बहादुरी से जाताअ है और शेर का पंजा धीरे से कांटे से निकलता है। उसके बाद शेर गुलाम को बिना कुछ किए वहासे चला जाता है।

गरीब गुलाम भी वहा से भाग जाने की सोचता है और मालिक के आने के पहले वह से दूर भाग जाता है।

कुछ महीनों बाद उसको मालिक फिरसे जंगल मे शिकार करने आता है और बहुत से जानवरों का शिकार करके पिंजरे मे रखता है। तभी वो गरीब गुलाम उसके मालक के आदमियों को वहा दिखाई देता है तो वे उसको मालिक के पास लेके जाते है।

मालक गुलाम को भागने की सजा देने के लिए अपने क्रूर आदमियों को गुलाम को शेर के पिंजरे मे डालने का हुकूम देता है। पर वो वही शेर राहत है जिसको गुलाम ने कांटे से बचाया था। तो वो शेर उसको कुछ नहीं करता है। उसके बाद गुलाम शेर के साथ मिलके बाकी सभी जानवरों क्रूर मालिक के कब्जे से छुड़ाते है। ऐसे सभी जानवर आजाद होते है।

कहानी से सिख:- दूसरों की कठिन घड़ी मे मदत करोगे तो हमे भी बदले मे कुछ न कुछ मिलता है।

#2 घमंडी गुलाब की कहानी (Short Moral Stories In Hindi For Class 7)

एक बग़ीचे एक सुंदर गुलाब का पौधा था पर गुलाब को अपने सुंदर होने पर बहुत घमंड था। गुलाब अपने सुंदरता के रोज गुण-गाता फिरता था।

उसके बगल मे ही एक कैक्टस का पोधा भी बढ़ा हो रहा था। उसको गुलाब का पोधा रोज अपने सुंदरता के घमंड की वजह से कैक्टस का अपमान करता था।

कैक्टस शांत स्वभाव का पोधा था उसको किसी तरह का घमंड ना होने की वजह से वो चुप रहता था। उसके पास के अन्य पौधों ने गुलाब को कैक्टस का अपमान करने से रोकने की कोशिश की पर गुलाब किसी की नहीं सुनता था।

कुछ दिनों बाद गर्मियों के मौसम चालू हुए। उसके बाद बगीचा का कुआ पूरा सुख गया और फिर पौधों के लिए एक भी पानी नहीं बचा था।

पानी ना मिलने की वजह से गुलाब का पौधा मुरजाने लगा। तभी वहा एक गोरैया आई और कैक्टस के पौधे से चोंच से पानी पीने लगी। गुलाब यह सब देखके शर्मिंदा हुआ और उसका सारा घमंड चकनाचूर हुआ।

गुलाब को समज आया और वो पानी के लिए कैक्टस के पास गया। कैक्टस ने बिना कुछ कहे उसको पानी दिया और गुलाब फिरसे खिल गया। उसके बाद वे दोनों एक अच्छे दोस्त बन गए।

कहानी से सिख:- बाहर की सुंदरता से अच्छी मन की सुंदरता होती है

Rate this post

Leave a Comment